भारत की पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का निधन,शोक में डूबा पूरा देश


भारत की पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का दिल्ली के एम्स हस्पताल में दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया।
उनकी आयु करीब 67 साल थी । वह काफी समय से बीमार चल रही थी। उनका कुछ समय पहले किडनी ट्रांसप्लांट हुआ था। सुषमा स्वराज के निधन के बाद पूरे देश में शोक की लहर है। सुषमा स्वराज ने धारा 370 को लेकर ट्वीट किया था। जिसमे उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बधाई देते हुए लिखा था। प्रधानमंत्री जी आपका हार्दिक अभिनंदन - में अपने जीवन में इस दिन को देखने का  इतँजार काफी लंबे समय से कर रही थी।










सुषमा स्वराज का जन्म हरियाणा के अम्बाला जिले मैं 14 फरवरी 1953 को हुआ था। उनके पिता आरएसएस  के सदस्य थे। अम्बाला छावनी के  एस. एस. डी. कॉलेज से बीए करने के बाद चंडीगढ़ से कानून की डिग्री हासिल की । 1973 में उन्होंने सुप्रीम कोर्ट में अपनी प्रेक्टिस सुरु की। जबकि उनका राजनीतिक करियर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद  ABVP  के साथ शूरु हुआ था। 
25 साल की उम्र में वो मंत्री बन गई थी। 2019 के लोकसभा चुनाव में उन्होंने हिस्सा नही लिया। क्योकि उनकी तबियत काफी लंबे समय से खराब चल रही थी। मंगलवार देर रात उन्होंने इस देश और दुनिया को अलविदा कहा। उन्होंने इस देश और दुनिया मे खूब नाम कमाया है। भगवान उनकी आत्मा को शांति दे।



आज पूरा देश शोक में डूबा हुआ है। कई बड़े नेताओं ने शोक प्रकट किया। बताया जा रहा है कि आज शाम 3 बजे उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा। 

Comments