Hssc exams से सम्बंधित सभी महत्वपूर्ण बातें जिलेवार परिचय यमुनानगर जिला

हेलो दोस्तों, स्वागत है आपका मेरे इस ब्लॉग में। आज हम यमुनानगर जिले के बारे मे सबकुछ जानेंगे। यहाँ कौन कौन से स्थान है जो हरियाणा hssc exams  में पूछे जाते है। ये सभी बातें जो आज हम आपसे शेयर करेंगे वो प्रत्येक hssc exams के लिए बहुत महत्वपूर्ण है।

                         यमुनानगर जिला

Yamunanagar, haryana gk
Yamunanagar


क्षेत्रफल                        1768 वर्ग कीमी
अस्तित्व स्थिति              1 नवम्बर 1989
मुख्यालय                      यमुनानगर सिटी
जिला कोड                  03
तहसील                        जगाधरी, छछरौली, बिलासपुर
उपतहसील                   रादौरा, सढौरा, मुस्तफाबाद
उपमंडल                      जगाधरी, बिलासपुर
खण्ड                         बिलासपुर, छछरौली, जगाधरी, रादौर, सढौरा,                                     मुस्तफाबाद
कुल जनसंख्या             12,14,205
पुरूष                          6,46,718
महिलाए                      5,67,487
दशक वृद्धि दर            16.6%
लिंग अनूपात               877
साक्षरता दर                78.9%
पुरूष साक्षरता            85.1%
महिला साक्षरता           72%
घनत्व                        687

सभी आंकड़े 2011 की जनगणना के अनुसार है।


यमुनानगर का अस्तित्व :-


यमुनानगर हरे रंग का स्वच्छ व समृद्ध औद्योगिक शहर है।
1 नवम्बर 1989 से पहले यह अम्बाला जिले का हिस्सा था।
यमुनानगर का पुराना नाम अब्दुल्लापुर था।
यमुनानगर की टिम्बर मार्केट 1947 से पूर्व अब्दुलापुर मंडी के नाम से प्रसिद्ध थी। यह मंडी 100 वर्ष से भी अधिक पुरानी है।
1969 में यमुनानगर में हरियाणा डिस्टिलरी की स्थापना की गई।


यमुनानगर में उद्योग :-


सरस्वती शुगर मिल एशिया की सबसे बड़ी सुगर मिल है। जो जगाधरी में स्थित है।  
यमुनानगर के जगाधरी शहर में रेल कार्यशाला स्थित है।
यमुनानगर जिले में चीनी बनाने की मशीनें, शराब, हाइड्रोलिक जैक, कल - पुर्जे, पीतल, ताम्बे तथा ऐलुमिनियम के बर्तन आधी उधोग है।
जगाधरी भारत मे पीतल के बर्तन बनाने का एक मुख्य केंद्र बनकर उभरा है। यहाँ बर्तन बनाने के लगभग 750 लघु इकाइयां, 26 फैक्ट्रियां व 20 रोलिंग मिले स्थित है।
यमुनानगर में मुंबई रेलवे कैरिज एन्ड वेगन वर्कशॉप तथा भारत स्टार्च केमिकल्स लिमिटेड भी स्थापित है।
सरस्वती नदी शोध संस्थान आदिबद्री (यमुनानगर) में स्थित है।



नदियां :-

यमुना
सोम्बनदी
बोली नदी
सरस्वती नदी
चोटंग नदी
राक्षी नदी

सोम्ब नदी मेहर माजरा के निकट यमुना नदी में मिलती है।
बोली नदी सोम्ब नदी में दादूपुर के पास मिलती है।


गुरुद्वारा :-

गुरुद्वारा लाखन माजरा, गुरुद्वारा कपाल मोचन


महल

बीरबल का रंगमहल

परियोजना 

हथिनी कुंड बैराज परियोजना


पर्यटक स्थल


ताजेवाला, हथिनी कुंड, कलेसर



प्रमुख मंदिर ;-

चिटठा मंदिर      -       यमुनानगर
भगवान परसुराम सर्वधर्म मन्दिर   -   जगाधरी
आदि बद्रीनाथ मन्दिर  -          कठगड़ (जगाधरी)
पंचमुखी हनुमान मंदिर    -      जगाधरी
केदारनाथ मंदिर  
मन्त्र देवी मंदिर




आदिबद्री :-

यह यमुनानगर के उत्तर में बिलासपुर तहसील में स्थित कस्बा है। यहाँ सरस्वती नदी व सोम्ब नदी का संगम स्थल है जिसे सरस्वती सोम्ब प्रयाग कहा जाता है। यहाँ आदिबद्री नारायण मंदिर, श्री केदारनाथ मंदिर तथा मन्त्र देवी मंदिर स्थित है।







जगाधरी :-

जगाधरी यमुनानगर का एक प्रमुख शहर है।
महाभारत काल मे जगाधरी को योगेंद्र या योगेन्द्री भी कहा जाता था। योगेंद्र एक योद्धा, एक राज्य, एक स्थान या एक पर्वत को कहा जाता था।
जगाधरी से समुद्रगुप्त व दिल्ली के चौहान व तोमरों के काल के कुछ पुराने सिक्के प्राप्त हुए है।




कलेसर वन्य जीव अभ्यारण्य व नेशनल पार्क :-

यह यमुनानगर जिले में यमुना नदी के किनारे पर स्थित नेशनल पार्क है। तथा यहाँ साल वन मुख्यत पाए जाते है। कलेसर को दिसम्बर 2003 में नेशनल पार्क का दर्जा दिया गया।





अन्य कुछ प्रमुख बातें यमुनानगर की


गोलाबारूद के बक्सों की 60% आपूर्ति यमुनानगर करता है।
सर्वाधिक गांव वाला जिला
सदोरा नामक प्रसिद्ध कस्बा यमुनानगर में है।
दीनबंधु छोटू राम तापीय परियोजना  500 MW 2008
बिल्ट पेपर मिल 1929
मछियारों का स्वर्ग भी यमुनानगर को कहा जाता है।
नर नारायण की गुफा यमुनानगर में स्थित है।
बैल गाड़ी पर बैठे संगीतकार की मूर्ति भी है।






यमुनानगर से सम्बंधित जन्म स्थली


बीरबल

सुनील दत्त   (अभिनेता)


वेद गांधी     (फ़िल्म निर्माता)

संजीव राजपूत   ( खिलाड़ी - जगाधरी)



ये थे दोस्तों यमुनानगर से सम्बंधित सभी तथ्य जो आजकल एग्जाम में पूछे जाते है। उम्मीद है आपको पसंद आये होंगे।






Comments